History खाद्य प्रकोष्ठ

खाद्य प्रकोष्ठ

खाद्य तथा रसद विभाग में खाद्य प्रकोष्ठ की स्थापना शासनादेश संख्या-2778/29-म0-37/73, दिनांक 22-2-74 द्वारा की गई थी। शासन के ज्ञाप संख्या-4133/29-गा-74, दिनांक 7-1-75 के अनुसार पुलिस उपमहानिरीक्षक एवं अपर आयुक्त के निम्नलिखित कर्तव्य निर्धारित किये गये है-

1. खाद्य एवं रसद विभाग के अन्तर्गत सृजित पुलिस प्रकोष्ठ के कार्यों का सकार्य तथा प्रकोष्ठ के पदाधिकारियों का पर्यवेक्षण।
2. खाद्य तथा रसद विभाग संबंधी विभिन्न नियंत्रण आदेशों के प्रवर्तन संबंधी, जिसमें जमाखोरी, तस्करी तथा मुनाफाखोरी के विरूद्व कार्यवाही सम्मिलित है का समन्वय तथा तस्करी रोकने के लिए पुलिस से सम्पर्क स्थापित करके छापे आयोजित करना।
3. आवश्यक वस्तु अधिनियम के अन्तर्गत चल रहे मुकदमों की देख-रेख।
4. अन्य कार्य जो आयुक्त, खाद्य तथा रसद विभाग अथवा पुलिस महानिदेशक/पुलिस महानिरीक्षक द्वारा अभिदिष्ट किये जायें।

    शासनादेश (मु0) संख्या-रा-1947/29-313-1-37ए/73, दिनांक 14-10-96 के द्वारा पॉच महानगरीय शहरों-कानपुर, इलाहाबाद, वाराणसी, आगरा एवं लखनऊ के जिलाधिकारी/अपर जिला अधिकारी (आपूर्ति) के अधीन कार्यरत उड़नदस्तों को भी खाद्य प्रकोष्ठ का अंग बनाकर पुलिस उपमहानिरीक्षक के नियंत्रण में रखा गया है, साथ ही खाद्य प्रकोष्ठ में नियुक्त पुलिस उपाधीक्षक में से एक-एक पुलिस उपाधीक्षक मेरठ तथा फैजाबाद मण्डल में तैनात किये जाने का प्राविधान किया गया है। एक पुलिस उपाधीक्षक खाद्य प्रकोष्ठ (मुख्यालय) लखनऊ में रहेगा। उड़नदस्तों में पुलिस निरीक्षकों की नियुक्ति कानपुर (कानपुर एवं झांसी मण्डल), आगरा (आगरा व मुरादाबाद मण्डल), वाराणसी (वाराणसी व आजमगढ़ मण्डल), बरेली (बरेली व कुमायूँ मण्डल), इलाहाबाद हेतु होगी। मेरठ व फैजाबाद में नियुक्त एक-एक पुलिस उपधीक्षकों के साथ एक-एक मुख्य आरक्षी व निरीक्षक भी होगें जो क्रमशः आगरा, इलाहाबाद, के उड़नदस्तों का कार्य भी देखेंगें। मेरठ व फैजाबाद के पुलिस उपधीक्षकों के लिए वाहन एवं कार्यालय टेलीफोन की सुविधायें विभागीय संसाधनों से कराई जायेगी। उल्लेखनीय है कि कवाल टाउन, जनपद बरेली एवं मेरठ व फैजाबाद में कार्यरत उड़नदस्तों को अभी तक कोई संसाधन शासनादेशों अनुसार उपलब्ध नहीं कराये गये हैं जिस कारण जांचों/प्रवर्तन कार्यों संबंधी कार्य बाधित हुआ। खाद्य प्रकोष्ठ के कार्यालय पत्रांक - 434/खा0प्र0/पु0अ0/स्टै0सुदृढ़ी-1/03, दिनांक 5-5-2004 द्वारा उतरांचल राज्य का पृथक गठन हो जाने के फलस्वरूप खाद्य प्रकोष्ठ उड़नदस्ते संबंधी निर्गत शासनादेश संख्या रा-1974/29/अन्य/रा-137ए/73 दिनांक 14-10-96 में आवश्यक संशोधित किये जाने हेतु अनुरोध किया जा चुका है।

    अद्यतन शासनादेश संख्या-6655/29-7-2000-म0-11/94, दिनांक 19-12-2000 द्वारा आवश्यक वस्तु अधिनियम-1955 के अन्तर्गत मुकदमें दर्ज कराने पर रोक लगा दी गई थी। पुनः शासनादेश संख्या- 3615/29-7-2003/एम-11/94, दिनांक 29-11-03 द्वारा शासनादेश में आंशिक संशोधन किया गया है एवं अधिनियम के अन्तर्गत अभियोग पुनः पंजीकृत कराने के अधिकार प्रदान किये गये है। शासनादेश संख्या-रा-871/29-1-2001-20-(सी0वी0)/2000, दिनांक 10-5-2001 में निर्देशित किया गया है एवं अधिनियम के अन्तर्गत अभियोग पुनः पंजीकृत कराने के अधिकार प्रदान किये गये है, परन्तु उड़नदस्तों को शासनादेश संख्या- रा-1974/29/अन्य/रा-137 ए/73, दिनांक 14-10-96 के अनुसार अभी तक संसाधन उपलब्ध नहीं है जिस कारण प्रवर्तन/जांचों संबंधी कार्य बांधित रहा।

    खाद्य प्रकोष्ठ को शासन अथवा आयुक्त, खाद्य तथा रसद विभाग के स्तर पर सौपी गई जांचों हेतु गठित संयुक्त दल में खाद्य विभाग/विधिक माप विज्ञान विभाग के अधिकारियों/कर्मचारियों को सम्मिलित किया जाना अनिवार्य होने की दशा में केवल शासन या खाद्य विभाग की पूर्व अनुमति प्राप्त किया जाना अनिवार्य होगा। मण्डलों के उड़नदस्तों को उन्हीं जनपदों में मण्डलीय सहायक आयुक्त खाद्य के साथ सम्बद्व कर दिया गया है जिसका आपरेशनल एवं प्रशासनिक नियंत्रण खाद्य प्रकोष्ठ में निहित है, पर इन इकाइयों हेतु वाहन की सुविधामय चालक के उपलब्ध कराया जाना है, इसके लिए संबंधित जिलाधिकारियों को आदेश निर्गत होने वांछित है। उड़नदस्तें हेतु स्वीकृत दूरभाष भी अभी जिला अधिकारियों के पास है, जो स्थानान्तरित किये जाने आवश्यक है, साथ ही उड़नदस्ते के कर्मियों को बैठने व अभिलेखों के रख-रखाव हेतु समुचित स्थान आदि भी आवश्यक है।

    शासनादेश संख्या-रा-3485/29-1-37 ए/73, दिनांक 15-1-91 द्वारा पुलिस अधीक्षक, अभियोजन अधिकारी, पुलिस निरीक्षक (5 पद), मुख्य आरक्षी (3 पद), आरक्षी (2 पद), आरक्षी/चालक (1 पद), अर्दली (4 पद), प्रवर श्रेणी सहायक, ज्येष्ठ आलेखक/प्रालेखक आशुलिपिक (3) ज्येष्ठ आलेखक/प्रालेखक, अपर जिलाधिकारी (आर्पूर्ति)- एक टंकक (1), अवर श्रेणी सहायक (1) के पद स्थाई घोषित किये जा चुके है। शासनादेश संख्या- 5247/29-2-2003-सा-29/2002, दिनांक 31-1-2004 द्वारा महानगरों- कानपुर, इलाहाबाद, वाराणसी,आगरा, लखनऊ के कार्यरत उड़नदस्तों के अस्थाई-पुलिस निरीक्षक, 10 आरक्षी, 5 पूर्ति निरीक्षक, 5 चालक के पदों की निरन्तरता दिनांक 29-2-06 तक प्राप्त हो चुकी है।

Activity Chart गतिविधि चार्ट

कुल अंत्योदय कार्ड
4095385
कुल अंत्योदय लाभार्थी
16417541

कुल पात्र गृहस्ती कार्ड
29127789
कुल पात्र गृहस्ती लाभार्थी
129710366

NFSA में दिए जाने वाले राशन का मूल्य
गेहूं:- 02.00 रुपये प्रति किलो
चावल:- 03.00 रुपये प्रति किलो
चीनी:- 13.50 रुपये प्रति किलो